प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, Fasal Bima Yojana

किसान हमारे देश की रीढ़ हैं ऐसे में किसानों को सुरक्षित रखने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) का लक्ष्य अप्रत्याशित रूप से घटनाएं होने की स्थिति में फसल को हुए नुकसान/क्षति से पीड़ित किसानों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाना है।

इस लेख में आप जान सकेंगे- Pradhanamntri Fasal Bima Yojana in Hindi | Apply Online Fasal Bima Yojana 2020-21 | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना | Pradhanamntri Fasal Bima Yojana | Fasal Bima Yojana Form Download | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइनफॉर्म |

अटल पेंशन योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 जनवरी 2016 को देश के किसानों को सुरक्षा देने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की है.

हर साल प्राकृतिक आपदा के चलते किसानों को होने वाले नुकसान से बचने के लिए उन्हें मुश्किल के वक्त में मदद देने की मकसद से इस योजना की शुरुआत की गई है.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना केंद्र द्वारा किसान की सुरक्षा के लिए शुरू की गई योजना है, इस योजना की मदद से प्राकृतिक आपदाओं जैसे-  बाढ़, तूफान, बेमौसम बारिश, ओलावृष्टि आदि से फसल बर्बाद होने पर किसानों को अधिक सुरक्षा प्रदान की जाती है

इस योजना में प्रीमियम राशि खरीफ फसलों के लिए 2% और रवि की फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत है वही हॉर्टिकल्चर फसलों के लिए 5% रखी गई है.

किसानों के अलावा शेष प्रीमियम राशि के भुगतान के लिए राज्य एवं केंद्र सरकार बराबर योगदान करती है,

केंद्र सरकार के इस योजना के लिए 5501 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं ।

प्रधानमंत्री बीमा सुरक्षा योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के उद्देश्य

  • प्राकृतिक आपदा,कीटों और बीमारियों के कारण फसलों की नुकसान की स्थिति में किसानों को बीमा कवरेज ओर वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  • देश में कृषि को बढ़ावा देने के साथ-साथ किसानों की आर्थिक मदद करना
  • किसानों की आय को निरंतर बढ़ाना व स्थिर रखना।
  • किसानों को नवीन और आधुनिक पद्धति को को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित करना।
  • कृषि क्षेत्र में ऋण का प्रवाह सुनिश्चित करना।
  • किसानों के आत्महत्या को रोकना

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

(PMFBY) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की प्रीमियम राशि

सभी खरीप फसलों के लिए किसानों को केवल 2 % का भुगतान करना होगा और सभी रबी फसलों के लिए 1.5% प्रीमियम होगा।

जबकि वार्षिक वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के मामले में किसान द्वारा भुगतान किया जाने बाला प्रीमियम केवल 5% होगा।

किसानों द्वारा भुगतान किए जाने वाले प्रीमियम दर बहुत कम होता है, और प्राकृतिक आपदा के कारण किसानों को फसल नुकसान या क्षति के लिए पूरी बीमा राशि प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा शेष राशि का भुगतान किया जाएगा।

सरकारी सब्सिडी पर कोई ऊपरी सीमा नहीं है। अगर बेलेंश प्रीमियम 90% है तब भी यह सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

इससे पहले प्रीमियम दर को कम करने का प्रावधान था जिसके कारण किसानों को कम दावों के भुगतान किया गया था ।

यह कैम्पिंग सरकार द्वारा प्रीमियम सब्सिडी पर सरकार की सीमा को सीमित करने के लिए किया गया जो अब हटा दिया गया हैऔर अब किसानों को बिना किसी कटौती के पूरी बीमा राशि के खिलाफ दावा मिल जाएगा ।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ

देश के किसानों को प्राकृतिक आपदा के कारण हुई नुकसान का बीमा दिया जाता है। अगर आप एक किसान हैं और आपका फसल प्राकृतिक आपदा जैसे-  हवा, अधिक वर्षा, ओले गिरने से आदि प्राकृतिक के,  कारण अगर नुकसान होता है तो आप सरकार से अपने नुकसान फसल के बदले मुआवजा ले सकते हैं।

लेकिन वहीं बात करें अगर आपके फसल किसी और कारण से नुकसान होता है तो उसका कोई मुआवजा नहीं मिलता है यह नियम सिर्फ और सिर्फ प्राकृतिक आपदा से नुकसान हुए फसल का ही मुआवजा देती है।

प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में पात्रता

देश के सभी किसान जिनके पास भूमि है वे सभी किसान इस योजना में पात्रता रखते हैं साथ ही वह किसान भारत का होना चाहिए।

प्रधानमंत्री आवास योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • किसान का ईडी कार्ड
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • रहने का प्रमाण पत्र जैसे- ड्राइविंग लाइसेंस,पासपोर्ट, वोटर आईडी आदि
  • भूमि का खसरा नंबर,
  • आवेदक का फोटो
  • फसल बुआई की तारीख

सुकन्या समृद्धि योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन करने से पहले आवश्यक तारीख

अगर आप इस योजना के तहत अपनी फसलों की बीमा कराते हैं तो आपको खरीप और रबी दोनों फसलों के लिए अलग अलग तारीख होते हैं जिसके अंतर्गत खरीप की फसल के लिए आप 31 जुलाई या उससे पहले तथा रबी की फसल के लिए 31 दिसंबर तक या उससे पहले तक आवेदन कर सकते हैं।

मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020- 21

1# सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर आना है

2# जब आप ऑफिशियल वेबसाइट पर आ जाएंगे तो आपके सामने कुछ इस तरह का पेज ओपन होगा इसके बाद आपको यहां पर आवेदन करने के लिए एक अकाउंट बनाना होगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020- 21
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, Fasal Bima Yojana

3# अकाउंट बनाने के लिए आपको फार्मर कॉर्नर पर क्लिक करना है इसके बाद एक और पेज यहां पर होगा

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2020- 21

4# इस पेज पर आप Guest Farmer पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने Register for new Farmer का फॉर्म ओपन हो जाता है अब आपको इस फार्म को अच्छे से पढ़ लेना है और सभी जानकारी सही-सही भर देना है.

5# जब फार्म भर जाए तो सबसे नीचे में आपको Create User का बटन देखने को मिल जाता है आप उसे क्लिक कर दें क्लिक करने के बाद प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आपका अकाउंट बन जाता है।

6# इसके बाद आप Login For Farmer पर क्लिक करेंगे तो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का फार्म आपके सामने आ जाएगा आप उसे अच्छे से भर लें इसके बाद उसे सबमिट कर दें।

सबमिट करने के बाद आपका फार्म सक्सेसफुली सबमिट हो जाएगा और आपको एक Reciept Number मिल जाएगा जो कि आपके रजिस्टर मोबाइल नंबर पर s.m.s.  द्वारा भेज दी जाएगी।

मध्य प्रदेश भूलेख

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन की स्थिति को कैसे चेक करते हैं।

  1. सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर आना है इसके बाद आपको Application Status का ऑप्शन देखने को मिल जाता है.
  2. यहां पर क्लिक करने के बाद आपके सामने कुछ इस तरह का पेज को ओपन होगा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, Fasal Bima Yojana
  3. अब आपको यहां पर Reciept Number  डालना है .
  4. Reciept Number डालने के बाद Check Status पर क्लिक करना है इसके बाद आपके आवेदन की स्थिति का पता चल जाएगा।

Pradhanmantri Fasal Bima Yojana में बीमा रक्षित जोखिम

अगर आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अपने फसलों का बीमा करा लेते हैं तो आपको कौन कौन से जोखिम होने पर बीमा का लाभ मिलता है। आइये जान लेते हैं

1# बीजारोपण/पौधारोपण में रुकावट का जोखिम

अगर अपने बीज की बुआई की है और फसल का बीजारोपण होने के बाद वह फसल नष्ट हो जाता है तो भी बीमा कवर मिलेगा।

2# खड़ी फसल

अगर फसल रोपण होने के बाद फलने फूलने की स्थिति में है और उस दौरान आपके फसल नुकसान होने पर बीमा कवर मिलेगा।

3# फसल कटाई पश्चात नुकसान

अगर आपने फसल की कटाई कर लिए हैं और अचानक आपकी फसल नुकसान हो जाता है तो भी बीमा कवर मिलेगा

4# स्थानीय आपदाएं

इसके अंतर्गत यदि फसल हवा, तूफान, अधिक वर्षा, ओलावृष्टि आदि प्राकृतिक आपदा से नष्ट होता है इस कंडीशन में बीमा मिलेगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में अधिक जानकारी के लिए संपर्क

किसान कॉल सेंटर : 1800-180-1551

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है कि अब आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, Fasal Bima Yojana के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे और इसमें ऑनलाइन आवेदन कैसे किया जाता है पूरी जानकारी आप समझ गए होंगे।

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: