National Pension System | NPS क्या है इसके बारे में विस्तार से जानते हैं

National Pension System | NPS क्या है इसके बारे में विस्तार से जानते हैं

नॉकरी करने वाले व्यक्ति के नॉकरी करने के कुछ साल बाद यह चिंता सताने लगती है कि आज नॉकरी कर रहे हैं तो स्थिति ठीक है लेकिन कल को यदि नॉकरी से रिटायर हो गए तो आय क्या होगी ।

यानी रिटारमेंट के बाद कि आय की चिंता सताने लगती है । इसका समाधान NPS | National Pension System के माध्यम से किया जा सकता है। NPS एक पेंशन योजना है । इस योजना में अपने रिटायरमेंट के बाद के जीवन के लिए निवेश किया जाता है। व्यक्ति के निवेश और उस पर मिलने वाली रिटर्न से nps खाता में वृद्धि होती है।

Beti Bachao Beti Padhao | आवेदन फॉर्म लाभ पात्रता और पूरी जानकारी हिंदी में

NPS | National Pension System भारत के नागरिकों को सुरक्षा व्यवस्था प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा शुरू की गई पेंशन-सह-निवेश योजना है।

यह योजना सुरक्षित और विनियमित बाजार आधारित रिटर्न के माध्यम से प्रभावी ढंग से आपकी सेवानिवृत्ति की योजना बनाता है।

यह योजना पेंशन फण्ड नियामक और विकास प्राधिकरण (PFRDA) द्वारा विनियमित है। पीएफआरडीए द्वारा स्थापित National Pension System | नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट NPS के तहत सभी परिसंपत्तियों का पंजीकृत मालिक है।

National Pension System | NPS क्या है इसके बारे में विस्तार से जानते हैं
National Pension System | NPS क्या है इसके बारे में विस्तार से जानते हैं

National Pension System | NPS के अंतर्गत कौन कौन से क्षेत्र शामिल हैं?

NPS|एनपीएस के तहत मुख्य रूप से दो क्षेत्रों को शामिल किया गया है

  1.  सरकारी क्षेत्र (Government Sector)
  2.  निजी क्षेत्र ( Private Sector)
    तो चलिए अब हम इन दोनों क्षेत्रों के बारे थोड़ा विस्तार से समझने की कोशिश करते हैं!

1. सरकारी क्षेत्र (Government Sector)

सरकारी क्षेत्र के अंतर्गत केंद्र सरकार और राज्य सरकार के कर्मचारियों को रखा गया है।

केंद्र सरकार – केंद्र सरकार ने 1 जनवरी 2004 से (सशत्र बलों को छोड़कर ) एनपीएस की शुरुआत करी है । जो कर्मचारी जनवरी 2004 के बाद से नियुक्त हुए हैं वे कर्मचारी एनपीएस के अंतर्गत आते हैं।

इसमें केंद्र सरकार के कर्मचारियों के प्रत्येक माह से राशि काट लिया जाता है और समान राशि नियोक्ता द्वारा योगदान दिया जाता है।

राज्य सरकार– केंद्र सरकार के बाद भारत के कई राज्य सरकारों ने भी एनपीएस को अपने कर्मचारियों के लिए अपनाया है और विभिन्न तारीखों से एनपीएस को प्रभावी ढंग से लागू कर दिया है।
और केंद्र सरकार के समान ही राज्य सरकार के कर्मचारियों के प्रत्येक माह से राशि काट लिया जाता है और समान राशि, नियोक्ता द्वारा योगदान दिया जाता है।

2. निजी क्षेत्र ( Private Sector)

कारपोरेट : एनपीएस कारपोरेट सेक्टर मॉडल एनपीएस का एक अनुकूलित संस्करण है जो कई संगठनों को अपनी नियोक्ता कर्मचारी संबंधों के ढांचे के भीतर एक संगठित संस्था के रूप में अपने कर्मचारियों को एनपीएस को अपनाने में सक्षम बनाता है।

भारत के सभी नागरिक : भारत के कोई भी व्यक्ति जो केंद्र सरकार राज्य सरकार या निजी क्षेत्र को छोड़कर 1 मई 2009 से ऑल सिटिज़नऑफ इंडिया सेक्टर केतहत एनपीएस में शामिल हो सकता है।

NPS में कौन शामिल हो सकता है ?

भारत का कोई भी नागरिक जो आवासीय या प्रवासी दोनों हो सकता है साथ ही 18 से 65 वर्ष की आयु हो एनपीएस की नियमानुसार शामिल हो सकता है।

क्या कोई NRI एनपीएस में शामिल हो सकता है?

जी हाँ अगर कोई व्यक्ति भारत के बाहर का तो वह भी एनपीएस में शामिल हो सकता है। NRI द्वारा किये गए योगदान समय समय पर RBI और FEMA द्वारा निर्धारित नियामक आवश्यकताओं के अधीन होते हैं।

हालांकि OCI (ओवरसीज सिटिज़न ऑफ इंडिया) और PIO ( भरतीय मूल के व्यक्ति) कार्ड धारक और एचयूएफ एनपीएस खाता खोलने के लिए पात्र नहीं है।

NPS | एनपीएस कैसे काम करता है?

अगर किसी व्यक्ति ने NPS में सफलता पूर्वक नामांकन कर लिया है तो उसे एक स्थाई PRAN Number आवंटित कर दिया जाता है।

ग्राहक के पंजीकृत ईमेल आईडी व मोबाइल नंबर के साथ सथ NSDL- CRA (सेंट्रल रिकॉर्ड कीपिंग एजेंसी) द्वारा ams अलर्ट के लिए एक ईमेल अलर्ट जारी किया जाता है।

इस योजना के तहत सदस्य अपनी रिटायरमेंट के बाद के लिए नियमित रूप से अधिक योगदान देता है ।

इस योजना में सेवानिवृत्ति या वापस लेने की स्थिति में ग्राहक को इस शर्त के साथ प्रदान किया जाता है कि फण्ड का कुछ हिस्सा योजना से वापस लेने के लिए वार्षिकी में निवेश किया जाएगा ताकि रिटायरमेंट के बाद मासिक पेंशन दिया जा सके।

NPS खाता के मुख्य विशेषता

अन्य पेंशन योजना की अपेक्षा nps में खाता खोलने में अपने फयदे हैं। यहां नीचे बताये गए विशेषता nps को अन्य उत्पादों से अलग बनाती है-

  • कम लागत वाला उत्पाद
  • व्यक्ति, कर्मचारियों व नियोक्ताओं हेतु लाभकारी
  • बाजार से सम्बंधित आकर्षक रिटर्न
  • आसानी से प्रबंधनीय
  • संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित एक नियामक PFRDA द्वारा विनियमित
  • इस खाता को मल्टीपल खाता के रूप में नहीं खोला जा सकता है और न ही अपने पत्नी व बच्चों के साथ मिलकर नहीं खोला जा सकता है।

मुझे उम्मीद है कि आपको National Pension System के बारे में समझ आ गया होोगा यदि कोई  प्रॉब्लम आती है तो हमें लिखें या nps के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर और अधिक जानकारी ले सकते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: